Bhartiya Jyotish Sansthanam

Date BJS Notice Board

भारतीय ज्योतिष संस्थानम

Bhartiya Jyotish Sansthanam

यह संस्था धर्मोत्थान, धार्मिक एवं सामाजिक सेवा कार्य हेतु सर्वदा तत्पर है ।. इस सस्था के माध्यम से देश सेवा, धर्म एवं समाज सेवा का कार्य किया जाता है । इस संस्थान को कार्य करने के लिए सम्पूर्ण भारत वर्ष में धर्म का प्रचार , शिक्षा में सुधार एवं शिक्षा को बढ़ावा , भारतीय संस्कृति एवं संस्कारो के बचाव एवं उत्थान हेतु सहयोग दें |आइये हम सभी भारत वासी मिलकर हाथ में धर्म , ज्ञान और एकता का मशाल लिए साथ चले| भारत को विकसित देश बनायें | सनातन धर्म को जागृत रखें|

View more....

भारतीय ज्योतिष संस्थानम.


यह संस्था धर्मोत्थान, धार्मिक एवं सामाजिक सेवा कार्य हेतु सर्वदा तत्पर व है ।

इस सस्था के माध्यम से देश सेवा, धर्म एवं समाज सेवा का कार्य किया जाता है । .

इस संस्थान को कार्य करने के लिए सम्पूर्ण भारत वर्ष में धर्म का प्रचार , शिक्षा में सुधार एवं शिक्षा को बढ़ावा , भारतीय संस्कृति एवं संस्कारो के बचाव एवं उत्थान हेतु सहयोग दें |आइये हम सभी भारत वासी मिलकर हाथ में धर्म , ज्ञान और एकता का मशाल लिए साथ चले| भारत को विकसित देश बनायें | सनातन धर्म को जागृत रखें |.


भारतीय ज्योतिष संस्थानम विश्वविद्यालय की स्थापना-

  1 - B J S एकेडमी- सर्वप्रथम कक्षा 1 से 12 तक के एक विद्यालय की स्थापना की जाएगी। इस विद्यालय में प्राच्य एवं पाश्चात्य सभी विद्याओं की शिक्षा दी जाएगी। निर्धन छात्रों के लिये छात्रवृत्ति का प्रावधान भी किया जाएगा।

  2 - विभिन्न संकायों की स्थापना- स्नातक एवं परास्नातक की शिक्षा के लिये निम्नलिखित संकायों की स्थापना की जाएगी-

  संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय

  कला संकाय

  सामाजिक विज्ञान संकाय

  संगीत एवं मंच कला संकाय

  विज्ञान संकाय

  वाणिज्य संकाय

  विधि संकाय

  चिकित्सा संकाय

  प्रबन्ध संकाय

  प्रौद्योगिकी संकाय

  3 - पुस्तकालय- विश्वविद्यालय परिसर में एक वृहद पुस्तकालय का निर्माण किया जाएगा।

  साइबर लाइब्रेरी की स्थापना

  व्यायामशाला एवं क्रीड़ाक्षेत्र की स्थापना

  छात्रावासों की स्थापना

  भोजनालय की स्थापना

  मंदिर एवं ध्यान कक्ष की स्थापना

  चिकित्सालय की स्थापना

  4 - संग्रहालय- विश्वविद्यालय परिसर में एक ऐसे संग्रहालय की स्थापना की जाएगी जहाँ मिर्जापुर के इतिहास से सम्बंधित वस्तुएँ विशेष रूप से रखी जाएंगी।

  5 - वेधशाला की स्थापना

  6 - विश्वनाथ आश्रम की स्थापना-

  हमारा विश्वास है कि विश्वनाथ के देश में कोई अनाथ नहीं है। अतः अनाथ, वृद्ध, विधवाओं एवं दिव्यांगों के लिये विश्वनाथ आश्रम की स्थापना की जाएगी। इन अशक्त लोगों के लिये भोजनादि की निःशुल्क व्यवस्था की जाएगी।

  दिव्यांग बच्चों की चिकित्सा तथा पालन-पोषण के लिये भी निःशुल्क व्यवस्था की जाएगी।

वेद दर्शन.

इस सस्था के माध्यम से देश सेवा, धर्म एवं समाज सेवा का कार्य किया जाता है । इस संस्थान को कार्य करने के लिए सम्पूर्ण भारत वर्ष में धर्म का प्रचार , शिक्षा में सुधार एवं शिक्षा को बढ़ावा , भारतीय संस्कृति एवं संस्कारो के बचाव एवं उत्थान हेतु सहयोग दें |आइये हम सभी भारत वासी मिलकर हाथ में धर्म , ज्ञान और एकता का मशाल लिए साथ चले| भारत को विकसित देश बनायें | सनातन धर्म को जागृत रखें |.

“कार्य-.

  • भारतीय ज्योतिष संस्थानम ट्रस्ट सनातन धर्म के उत्थान एवं रक्षा के लिये सतत प्रयत्नशील है। इसके लिये अब तक निम्नलिखित कार्य किये गए हैं-
  • माँ विन्ध्यवासिनी जन्मोत्सव शोभायात्रा- जनश्रुति के अनुसार, मिर्जापुर में माँ विंध्यवासिनी का प्राकट्य कजली पर्व के दिन हुआ था। भारतीय ज्योतिष संस्थानम ट्रस्ट के द्वारा प्रतिवर्ष इस दिन भव्य शोभायात्रा निकाली जाती है। इस परंपरा का प्रारम्भ हमारे ट्रस्ट के द्वारा ही किया गया है। पिछले 3 वर्षों से कजली पर्व के दिन यह शोभायात्रा निकाली जाती है।.
  • श्रीमद्भागवत महापुराण अमृत कथा ज्ञानयज्ञ- भारतीय ज्योतिष संस्थानम ट्रस्ट के द्वारा पिछले 3 वर्षों से श्रीमद्भागवत पुराण कथा का आयोजन प्रतिवर्ष किया जा रहा है।.
  • शिव पुराण एवं रामकथा- भारतीय ज्योतिष संस्थानम ट्रस्ट द्वारा प्रतिवर्ष धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इसी क्रम में शिव पुराण कथा एवं रामकथा का आयोजन भी हो चुका है।.
  • श्री महालक्ष्मी महायज्ञ- मिर्जापुर के इतिहास में पहली बार विराट महालक्ष्मी महायज्ञ एवं भागवत कथा का आयोजन हुआ। इस यज्ञ का आयोजन मिर्जापुर तथा समस्त भारतवर्ष की आर्थिक उन्नति के उद्देश्य से किया गया। यज्ञ की समाप्ति पर विशाल भण्डारे का आयोजन भी किया गया। भारतीय ज्योतिष संस्थानम ट्रस्ट के सभी बड़े कार्यक्रमों में इसी भाँति भण्डारे का आयोजन किया जाता है।
  • Jyotish:

    ज्योतिष एक विज्ञान है, जिसे ज्योतिष शास्त्र या ज्योतिष विज्ञान के नाम से जाना जाता है। .

    Meet Our Pandit ji

    Our Video's

    Meet Our Team

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय अध्यक्ष
    आचार्य अम्बिकेश दुबे

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय अध्यक्ष

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय महासचिव
    आचार्य धनञ्जय शर्मा जी

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय महासचिव

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय संगठन प्रमुख
    आचार्य धीरज दूबे जी

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय संगठन प्रमुख

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय शिक्षा प्रमुख
    श्री श्रीकुमार मिश्र (आचारी जी)

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय शिक्षा प्रमुख

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय सम्पर्क प्रमुख
    पं श्रवण कुमार मिश्रा (पवन मिश्रा)

    अखिल भारतीय राष्ट्रीय सम्पर्क प्रमुख

    सहकार्यक्रम प्रमुख एवं शिक्षा प्रमुख उत्तर प्रदेश
    आचार्य दीनदयाल शुक्ला जी

    सहकार्यक्रम प्रमुख एवं शिक्षा प्रमुख उत्तर प्रदेश

    View More

    भारतीय ज्योतिष संस्थानम

    Ready to get started?